डॉक्टर पर भड़के अखिलेश यादव, 'तुम बहुत छोटे कर्मचारी हो, भाग जाओ यहां से'

डॉक्टर पर भड़के अखिलेश यादव, 'तुम बहुत छोटे कर्मचारी हो, भाग जाओ यहां से'

January 14, 2020 12:32 PM
डॉक्टर पर भड़के अखिलेश यादव, 'तुम बहुत छोटे कर्मचारी हो, भाग जाओ यहां से'

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सोमवार को कन्नौज के छिबरामऊ में बस हादसे में घायल यात्रियों का हालचाल लेने सौ शय्या अस्पताल पहुंचे। पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने किसी बात से नाराज होकर वरिष्ठ परामर्शदाता डॉ. डीएस मिश्रा को कमरे से भगा दिया। 
दरअसल, अखिलेश यादव अस्पताल में भर्ती मरीजों के परिजनों से मुआवजा राशि देने की बात कर रहे थे, इसी दौरान इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर बीच में बोल पड़े। इससे अखिलेश यादव नाराज हो गए। 

अखिलेश यादव ने कहा कि तुम मत बोलो, तुम सरकारी आदमी हो। हम जानते हैं क्या होती है सरकार। इसलिए मत बोलो क्योंकि तुम सरकार के आदमी हो। तुम्हें नहीं बोलना चाहिए। 

अखिलेश यादव ने आगे कहा कि तुम सरकार का पक्ष नहीं ले सकते। तुम बहुत छोटे कर्मचारी हो। आरएसएस के हो सकते हो, बीजेपी के हो सकते हो, लेकिन ये बात नहीं कह सकते, कि वो क्या कह रहा है। इसके बाद अखिलेश ने कहा कि एक दम दूर हो जाइए। एक दम हट जाइए। 
 
अखिलेश यादव ने आगे कहा कि एक दम दूर हो जाओ यहां से, बाहर भाग जाइए, बाहर भाग जाओ यहां से। इसके बाद पूर्व सीएम ने सीएमएस डॉ. कुलदीप यादव से चिकित्सक के पद व जिले के बारे में जानकारी ली। सीएमएस ने जैसे ही चिकित्सक का पद ईएमओ व निवासी गोरखपुर बताया, पूर्व सीएम के मुंह से निकल पड़ा तभी वो सरकार का पक्ष ले रहे हैं। पूर्व सीएम ने कहा, चिकित्सक को बीच में नहीं बोलना चाहिए था।

वहीं इस संबंध में चिकित्सक डॉ. डीएस मिश्रा का कहना है कि पूर्व सीएम ने उनके साथ अभद्रता की है। उन्हें भाजपा व आरएसएस का व्यक्ति बताकर कमरे से बाहर निकाल दिया। वह इमरजेंसी ड्यूटी पर तैनात थे।

बस हादसे में घायलों की मदद में किया जा रहा भेदभाव
पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि बस हादसे में घायलों की मदद में भेदभाव किया जा रहा है। यही वजह है कि दो घायलों को अभी तक चेक नहीं मिल सका। यह बात उन्होंने तिर्वा मेडिकल कालेज में घायलों से मुलाकात के दौरान कही। अखिलेश यादव सोमवार को बस व ट्रक हादसे में घायलों को देखने मेडिकल कालेज पहुंचे थे। उन्होंने वार्ड में भर्ती मरीजों से बात कर अफसरों से उनके इलाज के बारे में जानकारी ली। सरकार की ओर से मिलने वाली मुआवजा राशि की जानकारी भी की। 
उन्होंने प्रेसवार्ता के दौरान कहा कि घटना के असली दोषी बस चलाने वाले हैं। पुलिस असली मालिक तक नहीं पहुंच पा रही है। बस से पहले भी घटनाएं हो चुकी हैं। मानक विहीन बसें चल रही हैं। सरकार ऐसी बसों का संचालन बंद कराए। 

सरकार छिपा रही मौतों का आंकड़ा: अखिलेश यादव
जीटी रोड पर घिलोई गांव के सामने ट्रक व स्लीपर बस भिड़ंत के बाद सोमवार को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने प्रत्यक्षदर्शियों से मामले की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि सरकार मौतों का आंकड़ा छुपा रही है।


pptvnews
About us | Contact us | Our Team | Privacy Policy | Terms & Conditions | Downloads
loading...